प्रादेशिक बिहार स्थानीय

बिहार चुनाव : सुबह 8 बजे से शुरू होगी काउंटिंग, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव  के परिणाम आने में महज एक दिन का समय रह गया है. कल तस्वीर साफ हो जाएगी कि आखिर बिहार की सत्ता की चाभी किसके हाथों में होगी. मतगणना के लिहाज से बिहार में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.

बिहार में मतगणना के लिहाज से सीएपीएफ की 78 कंपनियां तैनात की गई हैं. वहीं, कंट्रोल रूम में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. आपको बता दें कि बिहार में 38 जिलों में 55 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं. 10 नवंबर को सुबह 8 बजे से काउंटिंग शुरू हो जाएगी.                      वहीं, स्ट्रॉन्ग रूम में सभी ईवीएम को कड़ी सुरक्षा में रखा गया है. साथ ही 55 मतगणना केंद्रों में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की तैनाती की गई है. पूरे देश की निगाहें इस समय बिहार के चुनाव के नतीजों पर हैं कि आखिर कौन बिहार की सत्ता की बागडोर संभालेगा. वहीं, अगर एग्जिट पोल की बात करें तो एग्जिट पोल में भी कुछ नतीजों में एनडीए तो कुछ में महागठबंधन को आगे दिखाया गया है.  

नीतीश Vs तेजस्वी
एक तरफ यहां नीतीश कुमारलगातार 15 सालों से सीएम हैं तो दूसरी ओर युवा तेजस्वी यादव हैं. ऐसे में अनुभव और नए विकल्प के बीच बिहार की जनता किसे चुनती है ये भी बड़ा सवाल है.                           साथ ही, पूरी दुनिया लंबे समय से कोरोना की मार झेल रही है और कोरोनाकाल के बीच बिहार में विधानसभा चुनाव कराए गए हैं. बिहार 243 विधानसभा सीटों पर तीन चरणों में मतदान हुआ है जिसमें लगभग 78 लाख नए नए वोटर्स हैं, जो अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं.

क्या थे 2015 के परिणाम
2015 विधानसभा नतीजों की बात करें तो महागठबंधन ने चुनाव जीता था, जिसमें जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस शामिल थी. वहीं, एनडीए को 58 सीट मिले थे. महागठबंधन की ओर से नीतीश कुमार सीएम बनाए गए थे लेकिन बाद में नीतीश कुमार महागठबंधन से अलग हो गए थे और उन्होंने बीजेपी के साथ मिलकर बिहार में सरकार बनाई थी.

सीट शेयरिंग की तस्वीर
एनडीए की ओर से जहां नीतीश कुमार सीएम पद के उम्मीदवार हैं तो वहीं महागठबंधन ने आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव की सीएम कैंडिडेट बनाया है. एनडीए की ओर से जहां जेडीयू 115 सीटों पर, बीजेपी 110 सीट, पूर्व सीएम जीतनराम मांझी की पार्टी हम 7 सीटों पर और मुकेश सहनी की पार्टी वीआईपी 11 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

वहीं, महागठबंधन की ओर से आरजेडी 144 सीट पर, कांग्रेस 70 सीट, सीपीआई-माले 19 और सीपीआई 4 सीट पर चुनाव लड़ रही है. साथ ही, एनडीए से अलग होने के बाद दिवंगत नेता रामविलास पासवान की पार्टी एलजेपी ने अकेले ही बिहार में 143 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *