खेल

Australian Open : जोकोविच को मिली मेडिकल छूट, भारतीय खिलाड़ी को लौटाया देश, खेल मंत्रालय नाराज

डेस्क : साल का पहला ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा लेने के लिए रखी गई शर्तों के कारण खिलाड़ियों को काफी परेशानी हो रही है. भारत के जूनियर खिलाड़ी अमन दहिया (Aman Dahiya) को ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) के आयोजकों ने गलत तरीके से टीकाकरण छूट का आवेदन खारिज दिया है जिससे खेल मंत्रालय काफी नाराज है. आयोजकों ने अभय से जूनियर ग्रैंडस्लैम में हिस्सा लेने का मौका छीन लिया जबकि उन्होंने नोवाक जोकोविच (Novak Djokovic) के अनुरोध को स्वीकार कर लिया है.

दहिया को जूनियर ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) के सिंगल्स क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में हिस्सा लेना था लेकिन भारत ने किशोरों के लिये तीन जनवरी से ही टीकाकरण शुरू किया है इसलिये उनका टीकाकरण नहीं हो सका जो सत्र के पहले ग्रैंडस्लैम में प्रवेश करने की शर्त है. रैंकिंग में 78वें स्थान पर काबिज दहिया जूनियर शीर्ष 100 रैंकिंग में शामिल दो भारतीयों में से एक हैं. दूसरे खिलाड़ी चिराग दुहान (77) हैं.

अभय दहिया नहीं ले पाएंगे हिस्सा

ऑस्ट्रेलियन ओपन के आयोजकों ने टीकाकरण छूट के लिये केवल चार-पांच आवेदनों को स्वीकार किया है जिसमें गत चैंपियन नोवाक जोकोविच भी शामिल हैं जबकि 26 अनुरोध किये गये थे. अभी पता नहीं चला है कि इसमें जूनियर खिलाड़ियों के आवेदन भी शामिल हैं या नहीं.

खेल मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी ने कहा, ‘दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक को टीकाकरण की दो डोज के नियम में छूट मिल गयी जबकि अमन दहिया के प्रवेश से इनकार कर दिया गया क्योंकि वह 17 साल का है और उसका टीकाकरण नहीं हुआ है. इसका दोष ऑस्ट्रेलियन ओपन आयोजकों को जाता है. भारत के साथ इस तरह के तीसरी दुनिया जैसे व्यवहार को रोका जाना चाहिए.’

खेल मंत्रालय से जाहिर की नाराजगी

नोवाक जोकोविच को मेडिकल छूट तो मिल गई लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें ऑस्ट्रेलिया में एंट्री नहीं मिली है. जोकोविच का ध्यान छूट हासिल करने पर ज्यादा ध्यान दिया लेकिन इस वजह से वीजा पर ध्यान नहीं दे पाए जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा. मेलबर्न के ‘द ऐज’ अखबार की रिपोर्ट के अनुसार जोकोविच बुधवार को स्थानीय समयानुसार मध्यरात्रि से पहले टुल्लमरीन हवाईअड्डे पर पहुंच गये. लेकिन वीजा में उनके आवदेन में हुई गलती से उनके प्रवेश करने में विलंब हो रहा है. स्थानीय मीडिया ने दो घंटे बाद बताया कि वह अब भी सीमा पार नहीं कर पाये हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *