राष्ट्रीय

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री : कोरोना की वजह से जनगणना-2021 स्थगित

 डेस्क : कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार लगातार सजग है और सभी से वेरिएंट को फैलने से रोकने के लिए निरंतर गाइडलाइंस जारी कर रही है. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने आज मंगलवार को लोकसभा में बताया कि कोरोना की वजह से जनगणना 2021 (Census 2021) से जुड़े काम को रोक दिया गया है.

लोकसभा में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय (MoS Home Nityanand Rai) ने बताया कि कोरोना महामारी (COVID-19) के प्रकोप के कारण, जनगणना 2021 और संबंधित क्षेत्र की गतिविधियों को स्थगित कर दिया गया है. जनगणना 2021 के संचालन के लिए सरकार की सूचना को 28 मार्च 2019 को भारत के राजपत्र में अधिसूचित की गई थी.

केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय आज मंगलवार को लोकसभा में जनगणना पर एक सवाल का जवाब दे रहे थे. राय ने कहा कि सरकार ने विभिन्न राज्यों में जनगणना अधिकारियों के पदों को भरने के लिए 372 अधिकारियों की नियुक्ति की है. लोकसभा में 2021 की जनगणना से संबंधित बयान में आगे कहा गया है कि जनगणना (Census) व्यक्तियों द्वारा बोली जाने वाली मातृभाषा और दो अन्य भाषाओं से संबंधित जानकारी प्राप्त करने का प्रयास करती है.

यह खुलासा ऐसे समय में हुआ है जब विपक्षी दल खासकर बिहार में जाति आधारित जनगणना की मांग लगातार कर रहे हैं. इससे पहले आज, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना में कहा कि वह जल्द ही जाति आधारित जनगणना के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए एक सर्वदलीय बैठक बुलाएंगे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज संवाददाताओं से कहा कि जाति-आधारित जनगणना पर चर्चा के लिए हम जल्द ही एक सर्वदलीय बैठक बुलाएंगे. हम ऐसा करना चाहते हैं ताकि सभी राजनीतिक दल आम सहमति पर पहुंचें और राज्य सरकार आम सहमति के आधार पर घोषणा करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *