दरभंगा स्थानीय

दरभंगा : युवा समाजसेवी ‘वसीम’ बने ‘नजीर’, क्षेत्र के बाढ़ पीड़ितों को पहुंचा रहे राशन सामग्री

पूर्व में भी वसीम ने कई मौकों पर जरूरतमंदों और असहाय लोगों के प्रति दिखाई है संवेदनशीलता

दरभंगा : युवा समाजसेवी अशरफ उल इस्लाम उर्फ ‘वसीम’ कोरोना और बाढ़ की भीषण विपदा के दौर में मानवीय संवेदना एवं सामाजिक सरोकार की मिसाल पेश कर रहे हैं. वार्ड-23 सहित बलुआही, मूसापुर, तरौनी व कोठिया आदि कई गांवों के बाढ़ प्रभावितों तक वह अपनी युवा टीम के सहयोग से खाद्य सामग्री के पैकेट पहुंचा रहे हैं. इस पैकेट में 2 किग्रा आटा, 2 किग्रा चावल, 1 किग्रा चूरा, 1 किग्रा चना, आधा किग्रा दाल, 1 किग्रा प्याज, 2 किग्रा आलू, नमक, सरसों तेल, आधा किग्रा भुजिया व बिस्किट आदि शामिल हैं.

इस राहत कार्य में वसीम को भीम आर्मी के जिला उपाध्यक्ष राजू पासवान सहित वार्ड नंबर-23 के संगठन के अन्य सदस्यों का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है. सफा उल इस्लाम, रिहानुद्दीन,फरहानुद्दीन, आसन मंजर, फ़ैज़ बदर, रेहान, शौकत करीम, कमरान, चंदन पासवान, राजा रहमान, दिलशाद अनवर, विक्की पासवान, श्याम पासवान, रवि पासवान, रंजन कुमार सुमन, शत्रुघ्न पासवान, शिवा कुमार, मनोज पासवान, अरुण पासवान, इंद्रजीत पासवान, मजरूल इस्लाम व संजीत पासवान आदि युवा कंधे से कंधा मिलाकर वसीम के नेतृत्व में इलाके के बाढ़ पीड़ितों एवं विस्थापित परिवारों की मदद कर रहे हैं.

उल्लेखनीय है कि वसीम विदेश में कार्यरत हैं, पर जब भी उन्हें अपने क्षेत्र के लोगों की मदद करने का अवसर मिलता है, वह नहीं चूकते. पूर्व में भी वसीम ने कई मौकों पर जरूरतमंदों और असहाय लोगों के प्रति संवेदनशीलता दिखाते हुए उन्हें आर्थिक सहयोग दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *