राष्ट्रीय

भंग हो सकता है महाराष्ट्र विधानसभा, संजय राउत ने दिए संकेत

डेस्क : महाराष्ट्र की राजनीति में उथल-पुथल के बीच शिवसेना के बागी विधायक गुजरात से निकलकर गुवाहाटी पहुंच चुके हैं. वहीं संजय राउत ने कहा है कि महाराष्ट्र में मौजूदा राजनीतिक हालात विधानसभा भंग होने की ओर बढ़ रहे हैं.

बता दें कि गुवाहाटी पहुंचकर एकनाथ शिंदे ने दावा किया है कि शिवसेना के कुल 55 में से 40 विधायक उनके साथ हैं. इसके अलावा 7 निर्दलीय विधायकों का साथ भी एकनाथ शिंदे को मिला है.

महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 288 सदस्य हैं, इसके लिहाज से सरकार बनाने के लिए 145 विधायक चाहिए. शिवसेना के एक विधायक का निधन हो गया है, जिसके चलते अब 287 विधायक बचे हैं और महाराष्ट्र में सरकार के लिए 144 विधायक चाहिए. बगावत से पहले शिवेसना की अगुवाई में बने महा विकास अघाड़ी के 169 विधायकों का समर्थन हासिल था, जबकि बीजेपी के पास 113 विधायक और विपक्ष में 5 अन्य विधायक हैं.

उद्धव सरकार को 169 विधायकों का समर्थन हासिल था. इसमें शिवसेना के 56, NCP के 53 और कांग्रेस के 44 विधायक शामिल थे. साथ ही सपा के 2, PGP के 2, BVA के 3 और 9 निर्दलीय विधायकों का समर्थन भी महा विकास अघाड़ी सरकार को हासिल था.

अब बात करें अगर बीजेपी की तो बीजेपी के पास 113 विधायकों का समर्थन है. इसमें बीजेपी के 106, RSP के 1, JSS के 1 और 5 निर्दलीय विधायक शामिल हैं. अन्य दलों के पास 5 विधायक हैं. इसमें AIMIM के 2, CPI का (एम) 1 और MNS का 1 विधायक शामिल हैं. यानी बीजेपी को महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए 32 और विधायकों के समर्थन की जरूरत पड़ेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.