प्रादेशिक बिहार

बिहार : अग्निपथ योजना के खिलाफ तेजस्वी ने किया राजभवन मार्च, जेल में बंद युवाओं को रिहा करने की मांग

पटना : अग्निपथ योजना के खिलाफ आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने राजभवन मार्च कर महागठबंधन की तरफ से राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा है. इस दौरान उन्होंने कहा कि पूरे देश के युवा इस योजना से आक्रोशित हैं. इस योजना से 75 फीसद युवाओं के बेरोजगार होने की सम्भावना है. सेना से निकलने के बाद युवा क्या करेंगे, यह सबसे ज्यादा चिंता का विषय है.

तेजस्वी यादव ने मांग की है कि जितने युवाओं को जेल में बंद किया गया है, उसे जल्द रिहा किया जाए, क्योंकि वो सभी नौजवान अपने भविष्य को लेकर चिंतित थे. उन्होंने कहा कि अग्निपथ योजना को लेकर हमने सरकार से 20 सवाल पूछे थे, जिसका अब तक जबाव नहीं आया है.

तेजस्वी यादव ने अग्निपथ योजना पर सवाल उठाते हुए कहा कि हमने सुना है कि इस योजना को लेकर कई सालो से चर्चा चल रही थी. लेकिन, 30-35 सालों से इसको लॉन्च नहीं किया गया. इसका मतलब है कि अग्निपथ योजना में कुछ दिक्कत रही होगी. उन्होंने कहा कि इसबार भी ए लान से पहले तीन बार संशोधन किया गया. इससे साफ है कि यह कानून युवाओं के लिए ठीक नहीं है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा के नेता कहते हैं कि अग्निपथ योजना में सेवा समाप्त करने के बाद 12 लाख रुपया दिया जायेगा. युवा देशसेवा के लिए सेना में जानते हैं, युवा शहीद होते हैं. लेकिन, सरकार उनकी शहादत को पैसे से तौल रही है. यह शर्मनाक बात है. उन्होंने कहा कि भाजपा नेता कहते हैं कि रिटायरमेंट के बाद पार्टी कार्यालय में रख लेंगे. यह युवाओं के साथ मजाक है. भाजपा का चेहरा सबके सामने आ गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.