स्थानीय

दरभंगा : केवटी के बरियौल में मृतक जगन्नाथ राम के परिजनों से मिली भाकपा माले टीम

दरभंगा : भाकपा माले नेताओं की टीम ने आज केवटी के बरियौल गांव पहुंचकर मृतक जगन्नाथ राम के परिजन एवं ग्रामीणों से घटना की पूरी जानकारी ली।

बताया गया कि परिजनों एवं ग्रामीणों से मिली जानकारी के मुताबिक, मृतक तीन भाई-बहन और माता के साथ लगभग 20 वर्षों से विनीत झा (पिता सुभाष चंद्र झा) के यहां काम करता था, जिसका एक रुपया भी मजदूरी आज तक नहीं दिया गया। मजदूरी मांगने पर उसे खाता में भेज देने की बात कह कर बरगलाया जाता रहा। कुछ दिनों से मृतक का परिवार विनीत झा के यहां से काम छोड़कर विकास झा (पिता रमेश झा) के यहां काम करने लगा। मृतक की बहन काजल कुमारी ने बताया कि विनीत झा और विकास झा मजदूरी मांगने पर जान से मारने की धमकी देते थे। उसका शारीरिक शोषण किया जाता था। परिवार के पास अपना घर नहीं है, वह आरोपियों के घर पर रहकर ही काम करती थी, जिस कारण वह इनका अत्याचार सहने को मजबूर थी। मृतक की माता ने बताया कि जिस प्लास्टिक पाइप से मृतक जगरनाथ को गले में फंदा लगाकर पेड़ में टांगा गया था, वह विकास झा के मोटर का पाइप था, जिसे लोगों ने पहचाना। भाकपा माले टीम के मुताबिक, ग्रामीणों ने बताया कि आरोपी विनीत झा, विकास झा और रमेश झा दबंग प्रवृत्ति के हैं। पीड़ित परिवार से मिलने गए माले नेताओं के अनुसार, मृतक का पूरा परिवार आरोपी का बंधुआ मजदूर था।

माले नेताओं ने शेष अभियुक्तों को अबिलम्ब गिरफ्तार करने की मांग की है। टीम में शामिल भाकपा माले राज्य कमिटी सदस्य व इंसाफ मंच के राज्य उपाध्यक्ष नेयाज अहमद ने कहा की नीतीश-मोदी के राज में गरीब मजदूरों की मजदूरी मांगने पर हत्या कर दी जाती है। सरकार के मंत्री-विधायक अभियुक्तों को बचाने का काम करते हैं। नीतीश सरकार दलित मजदूरों को सुरक्षा देने में पूरी तरह विफल है।

भाकपा माले जिला कमिटी सदस्य धर्मेश यादव ने कहा कि मृतक जगरनाथ राम को इंसाफ मिलने तक भाकपा माले पीड़ित परिवार के साथ खड़ा रहेगी। एक सप्ताह में अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो आंदोलन तेज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्थानीय सांसद व विधायक की चुप्पी यह दर्शाती है कि वे पीड़ित परिवार के साथ नहीं, अभियुक्तों के साथ हैं।

माले नेताओं की टीम में इंसाफ मंच के राज्य उपाध्यक्ष व भाकपा माले राज्य कमिटी सदस्य नेयाज अहमद, भाकपा माले जिला कमिटी सदस्य व अखिल भारतीय किसान महासभा के नेता धर्मेश यादव, भाकपा माले जिला कमिटी सदस्य भूषण मंडल, नगर कमिटी सदस्य रंजन प्रसाद सिंह, लक्ष्मण पासवान, कुर्बान अली, नवीन, शौरभ शुक्ला, शंकर राम एवं शिबू पासवान आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.