अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका ने भारत पर लगाया ट्रैवल बैन, केवल इन खास कैटेगरी के लोगों को मिलेगी यात्रा की अनुमति

डेस्क : अमेरिका (America) ने भारत में कोरोनावायरस (Coronavirus in India) के बढ़ते मामलों के मद्देनजर चार मई से ट्रैवल बैन (Travel Ban) लगाने का ऐलान किया है. हालांकि, अमेरिकी विदेश विभाग (US State Department) ने कहा कि कुछ श्रेणियों के छात्रों, शिक्षाविदों, पत्रकारों और व्यक्तियों को राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) द्वारा ऐलान किए गए भारत ट्रैवल बैन (India Travel Ban) से छूट दी गई है. विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) द्वारा इन छूट को जारी किया गया है.

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने ऐलान किया कि भारत में कोरोना से पैदा हुए असाधारण हालात को देखते हुए चार मई की शुरुआत से भारत से आने वाले यात्रियों पर ट्रैवल बैन लगाया जा रहा है. विदेश मंत्रालय के मुताबिक, ट्रैवल बैन में दी गई ये छूट कुछ उसी तरह की है जैसा ब्राजील, चीन, ईरान और दक्षिण अफ्रीका से आने वाले कुछ श्रेणी के यात्रियों को दी गई है. अमेरिका की यात्रा को सुविधाजनक बनाने की विदेश विभाग की प्रतिबद्धता को ध्यान में रखते हुए विदेश मंत्री ब्लिंकन ने निर्णय लिया कि भारत पर भी कुछ उसी तरह के नियम लागू किए जाएंगे, जैसा अन्य मुल्कों पर किया गया.

विदेश विभाग ने कहा कि छात्र, शिक्षाविद, पत्रकार और अन्य लोग, जो कोरोना से जूझ रहे देशों में महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराने का काम कर रहे हैं, उन्हें बैन से छूट दी गई है. इसने कहा कि इसमें वे सभी आवेदक शामिल हैं, जो भारत, ब्राजील, चीन, ईरान और दक्षिण अफ्रीका में मौजूद हैं. महामारी की वजह से विदेश में मौजूद हमारे दूतावास और वाणिज्य दूतावास वीजा की कम संख्या को जारी कर रहे हैं. विभाग ने कहा, हमेशा की तरह, वीजा आवेदकों को नजदीकी दूतावास की वेबसाइट की जांच करनी चाहिए या फिर वह वीजा नियुक्ति उपलब्धता के बारे में सबसे अधिक जानकारी के लिए वाणिज्य दूतावास की बेवसाइट की जांच करें.

26 अप्रैल को विदेश विभाग द्वारा जारी एक राष्ट्रीय हित छूट में कहा गया कि वैलिड F-1 और M-1 वीजा वाले छात्रों को एक अगस्त से शुरू होने अकादमिक प्रोग्राम के लिए यात्रा में छूट के लिए दूतावास से संपर्क करने की जरूरत नहीं है. वे अपने अकादमिक प्रोग्राम के शुरू होने से 30 दिन पहले तक अमेरिका में दाखिल हो सकते हैं. वहीं, जिन छात्रों ने नए F-1 और M-1 वीजा के लिए आवेदन दिया है, वो अपने नजदीकी दूतावास और वाणिज्य दूतावास से अपने वीजा का स्टेट्स जानने के लिए संपर्क कर सकते हैं. जिन लोगों को F-1 और M-1 वीजा के लिए क्वालिफाइड माना जाएगा, उन्हें ट्रैवल बैन से छूट दी जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *