कृषि स्वास्थ्य

तापमान के उतार-चढ़ाव से बन रहा वायुदाब

कानपुर। बीते शनिवार को सीजन का सबसे गर्म दिन दर्ज किया गया था ठीक पांचवें दिन बुधवार को आसमान में बदली छायी रही। अधिकतम व न्यूनतम तापमान में उतार चढ़ाव से कम वायुदाब का क्षेत्र विकसित होने के चलते क्षेत्रीय चक्रवात बनने की आशंका है। मौसम विभाग ने शुक्रवार तक बदली छाई रहने और कुछ जगहों पर बूंदाबांदी की संभावना जताई है। मौसम के इस उतार चढ़ाव से किसानों की चिंता बढ़ गई है।
न्यूनतम तापमान होने से हवा भी हुई तेज
पिछले सात दिन में अधिकतम तापमान पांच से छह डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया है। वहीं न्यूनतम तापमान में एक डिग्री तक बढ़ोतरी हुई है। हवा भी चार से पांच किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 39.0 और न्यूनतम 21.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विवि (सीएसए) के मौसम वैज्ञानिक डॉ. नौशाद खान ने बताया कि वातावरण साफ होने से सूर्य की किरणों धरती पर सीधी पड़ रही हैं। गैस, धूल और अति सूक्ष्म कणों की वजह से सूर्य की कुछ गर्मी अवशोषित होती है। न्यूनतम तापमान अभी ज्यादा नहीं बढ़ रहा है, सामान्य से तेज हवा चलेगी।
शनिवार रहा सबसे गर्म
पिछले 10 दिनों में तापमान पांच डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया है। शनिवार सीजन का सबसे गर्म दिन रहा था। इस दिन अधिकतम तापमान जहां 39.0 डिग्री सेल्सियस था वहीं न्यूनतम तापमान 18.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था। गर्मी के चलते घरों में पंखे चालू हो गए हैं, जबकि कूलर और एसी की तैयारी की जा रही है। तापमान में बढ़ोतरी दिन पर दिन हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *